Skip Ribbon Commands
Skip to main content

​​​​​​​​​​

​​

प्रोविजनिंग पैकेजेस – क्या करें और क्या ना करें?


हाय, विंडोज 10 के दोस्तों!

आज मुझे मेरे एक पसंदीदा विषय पर बात करनी है: विंडोज 10 प्रोविजनिंग।

इंटरनेट पर फिलहाल एक मुद्दे पर जोर शोर से चर्चा जारी है और वह है नई विंडोज 10 तैनाती की विधि (उर्फ प्रोविजनिंग) प्रत्यक्ष रूप से व्यवहारक्षम स्थिति थी या नहीं? और वास्तव में मेरे अनुभव के अनुसार इस विधि का इस्तेमाल करते हुए कोई उपभोक्ता दिख नहीं रहा है। इसका सत्यापन करने के लिए मैं माइक्रोसॉफ्ट जापान में एक आंतरिक सर्वेक्षण किया और मुझे पता चला कि अग्रणी 200 कंपनियों में से 60 कंपनियों ने विंडोज 10 तैनाती विधि का चुनाव किया है: उनमें से 90% कंपनियों ने परंपरागत "वाइप एंड लोड" विधि को अपनाना चुना है।

क्यों? हालांकि, उसकी बहुत सारी वजहें भी है। मुझे जो वजहें समझी हैं उसमें पहली वजह है कि उपभोक्ताओं को परंपरागत तैनाती विधि की आदत है जो विंडोज 10 पर बढ़िया तरीके से काम करती है। उन्होंने शायद पूरी तैनाती प्रक्रिया का प्रलेखन (डॉक्युमेंटेशन) भी किया हो सकता है और शायद वे पूरी तरह से नई तैनाती संरचना एवं प्रलेखन का खर्च भी बचाना चाहते हों। उदाहरण के लिए, जापान में हमारे अधिकांश उपभोक्ता बड़े पैमाने पर उपकरणों को बदलने के समय पर ही विंडोज 10 को अपनाने के बारे में सोचते हैं। इन विशेष मामलों में, ज़्यादातर वे "वाइप एंड लोड" विधि का प्रयोग करते हैं।

मेरे विचार से दूसरी वजह यह हो सकती है कि प्रोविजनिंग विधि की कुछ सीमाएं और चुनौतियाँ है: उदाहरण के लिए, स्टोर से खरीदे हुए विंडोज 10 उपकरण में से ब्लॉटवेयर निकालने का कोई आसान उपाय वह प्रस्तुत नहीं करती (आप इसकी स्क्रीप्ट लिख सकते हैं लेकिन बाज़ार में उपलब्ध सभी उपकरणों के लिए वह समान रूप से काम नहीं करेगी)। और भी एक वजह यह हो सकती है कि संस्करण अपग्रेड केवल प्रो से (या इडीयु) एंटरप्राइज तक ही काम करता होगा, लेकिन वास्तव में हम खरीद सकते हैं ऐसे उपभोक्ता उपकरण विंडोज 10 होम संस्करण के साथ आते हैं (प्रत्यक्ष रूप से होम से प्रो और फिर प्रो से एंटरप्राइज में जाने के लिए PPKG का इस्तेमाल करना यह एक मार्ग उपलब्ध है)। और अंतिम वजह है विंडोज ICD टूल जो शायद (फिलहाल) उपयोगकर्ता अनुकूल साधन नहीं होगा (इसमें सेटिंग के बारे में कुछ जानकारी और कुछ इनपुट प्रारूपों की कमी है)।

मेरे विचार से, प्रोविजनिंग केवल एक ही स्थिति में इस्तेमाल किया जाना चाहिए: BYOD। यह एक उपाय है जो उद्यम की कुछ जटिलताओं पर समाधान खोज सकता है जैसे व्यावसायिक यात्रा के दौरान बिक्री प्रतिनिधि का उपकरण खोने/टूटने/चोरी हो जाने की घटना घट सकती है और उस समय आईटी तकनीशियन के दखल के बजाय उसे बदलना आवश्यक हो जाता है। उसके उपकरण को एंटरप्राइज संस्करण पर अपग्रेड करके, ऑफिस 2016 इंस्टॉल करके, VPN प्रोफाइल सेट करके और आवश्यक होने पर डोमेन से जोड़कर तुरंत काम फिर से शुरू करने के लिए प्रोविजनिंग उसे मदद करेगा।

अन्य किसी भी स्थिति के लिए, किसी भी नये उपकरण के लिए आपने इन-प्लेस अपग्रेड (विंडोज 7, 8, 8.1 उपकरण से) या वाइप एंड लोड पर विचार करना चाहिए।

शायद आपको प्रोविजनिंग विधि में कुछ सीमाएं पेश आ रही होगी, फिर भी मुझे PPKG में से मिले हुए सभी जाँच परिणामों को यहाँ एकत्रित करना था (क्या काम करता है और क्या नहीं) ताकि आवश्यकताओं के अनुरूप सर्वोत्तम होनेवाली तैनाती विधि का निर्धारण करते समय सभी डोरियाँ आपके हात में होनी चाहिए।

  • कॉर्पोरेट इन्फ्रा में उपकरण का पंजीकरण करें
    • Domain Join –> OK
      • [Runtime Settings]>[Accounts]>[Computer Account]
        • [Account] domain\account (i.e. contoso\admin)
        • [DomainName] domain FQDN (i.e. contoso.com)
        • [Password] domain join account password
    • Azure AD Join –> NO (PPKG द्वारा प्रस्तुत एनरोलमेंट की सत्यापन विधि से वह संबंधित है जो ऐज़ूर AD जॉइन और साथ ही इनट्युन के साथ अनुकूल नहीं)
    • Intune enrollment –> NO (उपरोक्त के अनुसार)
    • SCCM On-prem MDM enrollment –> OK (व्यक्तिगत रूप से जाँचा हुआ नहीं है लेकिन जाँचने की प्रक्रिया स्पष्ट करनेवाला एक उत्कृष्ट लेख मिला है)
  • प्रोफाइल्स
    • WIFI –> OK
      • [Runtime Settings]>[ConnectivityProfiles]>[WLAN]>[WLANSetting]
        • Add the [SSID] of the WiFi
        • Under [WLANXmlSettings], fill [AutoConnect], [HiddenNetwork], [SecurityKey] and [Security Type]
    • Certificates –> OK
      • For Root CA Certificate, [Runtime Settings]>[Certificates>[RootCertificates]
        • Type a [CertificateName] and click [Add]
        • [CertificatePath] path to the CER root CA certificate file
    • Email profile –> BYOD स्थिति में आपको डोमेन या ऐज़ूर एडी खाते की जानकारी नहीं होती, मुझे नहीं लगता कि प्रोविजनिंग के साथ ऐसा कुछ संभव है।
  • OS कस्टमाइजेशन
    • Start Menu –> OK (नोट: यह कंप्युटर के मौजूदा उपयोगकर्ता पर लागू नहीं होता लेकिन अन्य किसी भी नये उपयोगकर्ता पर लागू होगा)
    • Wallpaper –> NO (इमेज फाइल कॉपी करे लेकिन अप्लाइ ना करें, उससे अपेक्षित परिणाम होगा या नहीं यह स्पष्ट नहीं है। इस पर हम आपको आगे अपडेट करेंगे)
    • Local Account creation –> OK
      • [Runtime Settings]>[Accounts]>[Users]
      • Type a [User Name] and click [Add]
      • [Password: password of the newly created account
      • [UserGroup] add the user to "Administrators" group for instance
    • UWF –> OK
      • [Runtime Settings]>[UnifiedWriteFilter]
      • [FilterEnabled] TRUE
      • [OverlaySize] in MB (i.e. 1024)
      • [OverlayType] select RAM or Disk
      • [Volumes]
        • Type the [DriveLetter] to filter (i.e. "C:") and click [Add]
        • [Protected] TRUE
    • Bitlocker –> NO (स्क्रीप्ट में manage-bde कमांड इस्तेमाल करने के लिए yes)
    • Edition upgrade –> OK (केवल Pro/Edu से Enterprise के लिए)
      • [Runtime Settings]>[EditionUpgrade]
      • [UpgradeEditionWithProductKey] एंटरप्राइज प्रॉडक्ट की लिखें
  • Universal Applications
    • Install –> OK (साइडलोडिंग सक्षम करना ना भूलें, प्रमाणपत्र, डिपेंडंसीज और साथ ही ऍप फाइल तैनात करें)
      • To enable sideloading, [Runtime Settings]>[Policies]>[ApplicationManagement]>[AllowAllTrustedApps]>[Yes]
      • To deploy certificate, [Runtime Settings]>[Certificates]>[TrustedPeopleCertificates]
        • Type [CertificateName] and click [Add]
        • [TrustedCertificate] specify the path to the app certificate file
      • To import app with dependencies, [Runtime Settings]>[UniversalAppInstall]
        • Type [PackageFamilyName] and click [Add] (can be any name)
        • [ApplicationFile] specify the ".appxbundle" file
        • [DependencyAppxFiles] एक के पिछे एक इस प्रकार सभी डिपेंडंसीज फाइलों को ऍड करें
    • Uninstall –> OK
      • [Runtime Settings]>[UniversalAppUninstall]
      • ऐसे कंप्युटर पर जहां अनइंस्टॉल होनेवाले ऍप इंस्टॉल होंगे वहां पैकेज फैमिली नाम खोजने के लिए get-appxpackage यह पावरशेल कमांड चलाएं।
      • उपरोक्त कमांड इस्तेमाल करके [PackageFamilyName] found टाइप करें।
  • Win32 applications installation
    • MSI –> OK
      • [Runtime Settings]>[ProvisioningCommands]>[DeviceContext]
      • [CommandFiles] add the MSI file
      • [CommandLine] type the command line to install the MSI package: "msiexec.exe /i xxx.msi /q"
    • Office –> OK (WICD इस्तेमाल करके वह कैसे करना है यह स्पष्ट करने के लिए मैं एक अन्य लेख लिखनेवाला हुँ)।

प्रोविजनिंग के साथ क्या संभव है इसका निर्धारण करने के लिए यह सूची आपकी मदद करेगी ऐसी आशा है। वास्तव में, विंडोज ICD में उपलब्ध सभी सेटिंग्जका समावेश मैंने नहीं किया है, इसलिए अगर आपको अन्य कोई सेटिंग चाहिए होगी तो उसे विंडोज ICD में खोजने की सिफ़ारिश मैं आपको करता हुँ।:)


​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​

Read More on...

​​​
This site uses Unicode and Open Type fonts for Indic Languages. Powered by Microsoft SharePoint 2013.
©2016 Microsoft Corporation. All rights reserved.